एमबीबीएस क्या है इसकी पूरी जानकारी 2022

एमबीबीएस क्या है इसकी जानकारी पूरी पढ़ें और कैसे करें नीचे दिए गए उल्लेख को ध्यान पूर्वक पढ़ें

सभी बच्चे अपना कैरियर बनाने की सोचते हैं और इंटर के बाद आज के पास बहुत सारे ऑप्शन खुल जाते हैं लेकिन बहुत से स्टूडेंट ऐसे होते हैं कि जिन्हें डॉक्टर बनना होता है डॉक्टर बनने का सपना देख है आज भी स्टूडेंट डॉक्टर बनने का सपना तो देखते हैं मगर उनको यह नहीं पता होता कि क्या करना है डॉक्टर बनने से पहले तो हम आपको बता दें कि आप इसको पूरा पड़ेंगे तो हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे

  डॉक्टर बनने से पहले इंपॉर्टेंट डिग्री

डॉक्टर बनने से जुड़ी इंपॉर्टेंट डिग्री के बारे में जानकारी मिल जाए तो आपके लिए डॉक्टर बनने के प्रचार को समझना बहुत ही आसान हो सकता है इसलिए आज की इस पोस्ट में हम आपको एमबीबीएस से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करेंगे या समझाएंगे

अब हम जानते हैं की एमबीबीएस डिग्री क्या है

अभिषेक अंडर ग्रैजएट कोर्स   है जो मेडिकल साइंस की एक प्रोफेशनल डिग्री भी कहलाती है  इस डिग्री को स्टूडेंट लेने के बाद ही कैंडिडेट डॉक्टर कहलाता है एमबीबीएस की फुल फॉर्म क्या है देखिए एमबीबीएस की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी इस कोर्स की ड्यूरेशन सारणी 5 साल की होती है जिसमें से 1 साल इंटरशिप का कहलाता है

इसमें कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं

इस केवल 6 सब्जेक्ट होते हैं

  • Anatomy
  • Harmacology
  • Pathology
  • Community health & medicine
  • Paediatrics
  • Surgery

इसके बाद और क्या होता है

एकेडमिक ग्रेजुएशन पूरी होने के बाद इंटर्नशिप के दौरान आपको हॉस्पिटल हेल्थ केयर सेंटर एचडी एशियन पेन स्टैंड या क्रिटिकल केयर यूनिट में मेडिकल असिस्टेंट के तौर पर प्रैक्टिस करने का मौका मिलता है इंटर्नशिप कंप्लीट करने के बाद मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया में अपना नाम डॉक्टर के तौर पर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हो

एमबीबीएस कोर्स करने के लिए एलिजिबिलिटी क्या होता है?

  • अगर आप डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आपको ट्वेल्थ पास होना बहुत जरूरी है जिसमें आपके पास साइंस प्रोजेक्ट पीसीबी फिजिक्स केमिस्ट्री और बायो लो जी कहो ना बहुत आवश्यक होता है इसके साथ-साथ ट्वेल्थ क्लास में कम से कम 50% मार्क्स होने कंपलसरी हैं
  • इंग्लिश लैंग्वेज पर भी अच्छा फोकस होना बहुत जरूरी है
  • एज लिमिट का भी बहुत ध्यान रखना जरूरी है क्योंकि एमबीबीएस में एडमिशन के समय आपकी एज कम से कम 17 साल होनी ही चाहिए इस चक्र में ज्यादा नहीं होनी चाहिए बस ज्यादा से ज्यादा अट्ठारह होनी चाहिए
  • इसके अलावा मेडिकल काउंसलिंग ऑफ इंडिया द्वारा लागू की जाने वाली रेडिसन को भी पूरा करना  बहुत जरूरी माना जाता है

इन कंडीशन को पूरा करने के बाद आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होगा जिसे  क्लियर करने के बाद ही आपका एडमिशन एमबीबीएस कोर्स में हो सकता है अन्यथा आपका एडमिशन एमबीबीएस में नहीं हो सकता

एंट्रेंस एग्जाम के बारे में जानते हैं

एमबीबीएस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको नेट क्लियर करना होगा नेट यानी नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट इस इस टेस्ट के बेस पर आप एमबीबीएस कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं इस टेस्ट को गवर्नमेंट और प्राइवेट दोनों तरह के इंस्टिट्यूट परसेप्ट करते हैं पहले एमबीबीएस में एडमिशन के लिए 2 मीटर एंट्रेंस टेस्ट हुआ करते थे टेंपल एमबीबीएस एग्जाम और ए डबल एल एम एस एम् बी बी एस एग्जाम लेकिन इस ईयर 2022 में इन दोनों एंट्रेंस एग्जाम को खत्म कर दिया गया ताकि नीट इंडिया का सबसे कंप्यूटर टेस्ट मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट बन सके एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद आप एमबीबीएस कोर्स कर सकते हैं और इसके लिए आपको बताते हैं कि टॉप मेडिकल कॉलेज के नाम और उनके बारे में

एमबीबीएस डिग्री लेने के बाद क्या करें

आप चाहे तो मेडिकल साइंस में एनडीआईमेज ऐसी पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री के लिए अप्लाई कर सकते हैं या फिर एक काली फाई डॉक्टर के रूप में वर्क कर सकते हैं अगर आप पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स की बजाय डॉक्टर के तौर पर कार्य शुरू करना चाहते हैं तो यह जानना बहुत जरूरी है कि एमबीबीएस कोर्स करने लेने के बाद किस पर ऑप्शन को चुनने पर आपको एवरेज कितनी सैलरी मिल सकती है और हम आपको बता दें कि जनरल फिजी की फिजिशियन के रूप में अपने करियर की शुरुआत करना एक अच्छा ऑप्शन है जनरल फिजिशियन मरीजों की आम बीमारियों की स्टडी डायलॉग एस एस और क्यों करता है लेकिन किसी केस में क्रिटिकल बृजेश होने पर उस मरीज को इस बीमारी के एक्सपर्ट डॉक्टर को रेफर करना होता है जनरल फिजिशियन के तौर पर आप शुरुआत में अपरोक्ष 4 से 500000 पर एनम ऑर्डर कर सकते हैं मेडिकल असिस्टेंट सर्जरी के बारे में बताएं तो एमबीबीएस कंप्लीट करने के बाद आप मेडिकल असिस्टेंट के तौर पर भी अपना करियर की शुरुआत कर सकते हैं लेकिन एक मेडिकल असिस्टेंट रहते हुए आप जैसे इससे स्पेशलाइजेशंस में पेशेंट की सर्जरी करना सीख सकेंगे और अगर आप सर्जरी बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको प्रैकस और नॉलेज हमेशा जारी रखनी होगी इसलिए एक अच्छा कदम साबित होता है एक मेडिकल असिस्टेंट के तौर पर आप करियर की शुरुआत करने पर आप अप्रॉक्स तीन से चार लाख पर एएन कर सकते हैं मतलब भी कमा सकते हैं

बच्चों के चिकित्सक

एमबीबीएस कोर्स करने के बाद आप शिशु चिकित्सा की बन सकते हैं एक बच्चे की जनरल ग्रोथ डेवलपमेंट और बीमारियों का ट्रीटमेंट करता है इसके अलावा बच्चों की डाइट और अली जी जैसे इस यूज की जानकारी भी पेशेंट को देता है एक तोड़ के पर काम करते हुए आप अपराह्न साढे 400000 साल से नाम कमा सकते हैं दोस्तों डॉक्टर बनना केवल खुद के सपनों को पूरा करना नहीं होता अच्छा पैसा कमाना री साबित होता है जबकि इस प्रोफेशनल में सेवा करना बहुत जरूरी माना जाता है यानी मरीजों की बीमारी को आसान तरीके से दूर करने की संभावना ही आपको एक सफल डॉक्टर बना सकती हैं इसलिए अगर आप डॉक्टर बनना चाहते हैं तो डीप स्टडी सीरीज एक्स्ट्रा प्रैक्टिस और सेवा की भावना जागृत अपने अंदर रखें और उम्मीद है कि डॉक्टर बनने के लिए जरूरी एमबीबीएस कोर्स के बारे में मिली इनफार्मेशन आपके लिए हेल्प साबित होगी

NOTE

आगे भी ऐसी जानकारी लेने के लिए हमारी वेबसाइट को बुकमार्क कर लें हम आपको इंटर के बाद क्या करना है और क्या बेस्ट है आप क्या करना चाहते हो तो हम उसके बारे में आपको पूरी जानकारी दे देंगे पूरी जानकारी पढ़ने के लिए धन्यवाद हमारा यह कर्तव्य है कि हम आपको सही जानकारी प्रदान कराएं क्या होता है कि कई बार इंटर करने के बाद स्टूडेंट का मन कुछ भी करने के लिए कर सकता है जैसे कि हम भी बियर बीसीए बीटेक बीएससी करने का मन करता है और उसको उसके बारे में पूरी जानकारी नहीं मिल पाती है तो हम इसके बारे में आपको पूरी जानकारी प्राप्त करा देंगे और हमारी वेबसाइट को बुकमार्क करें इस वेबसाइट को रोज रिफ्रेश करके चेक करते रहे कि कुछ नया अपडेट हुआ है या नहीं

Leave a Comment